नदी के किनारे स्थित सुंदर गांव किशनी पर एक लेख। newskorner.com

किशनी उत्तर प्रदेश के अमेठी जिले के शुकुल बाजार प्रखंड का एक खूबसूरत गांव है. गांव गोमती नदी के पास स्थित है जो गांव को आकर्षण देता है। स्थानीय भाषा में घाघरा नामक एक छोटी नदी भी गाँव की सुंदरता को बढ़ा रही है जो गोमती नदी में मिलती है। यह मुख्यालय सुल्तानपुर से 64 किमी दूर और राज्य की राजधानी लखनऊ से लगभग 90 किमी दूर स्थित है। किशनी दक्षिण की ओर जगदीशपुर ब्लॉक, उत्तर की ओर मवई ब्लॉक, पूर्व की ओर अमानीगंज ब्लॉक, पश्चिम की ओर सिंहपुर ब्लॉक से घिरा हुआ है।

घघरा

स्थानीय भाषा अवधी है। 2011 की जनगणना के अनुसार गाँव की कुल जनसंख्या 6032 है और घरों की संख्या 1003 है। गाँव की साक्षरता दर 38% है जो पिछले 10 वर्षों में अवश्य ही बढ़ी होगी। गाँव में 2-3 स्कूल और 1 बैंक हैं जिनका नाम इंडियन बैंक है। गांव मुस्लिम बहुल है लेकिन हिंदू और मुसलमान दोनों भाईचारे के साथ रहते हैं। गांव में मस्जिद और मंदिर दोनों हैं। वर्तमान में मोहम्मद शोएब गाँव के प्रधान हैं जो एक बहुत अच्छे इंसान भी हैं और गाँव के कल्याण के लिए खड़े हैं।

गांव का ड्रोन दृश्य

जब आप गाँव में प्रवेश करते हैं, तो आपको सबसे पहले स्थानीय भाषा में चौराहा या कटरा नामक किशनी बाजार दिखाई देगा जहाँ हर दिन की चीजें उपलब्ध हैं जैसे कि जनरल स्टोर, मेडिकल स्टोर, बैंक, एटीएम, मिल, डॉक्टर क्लिनिक, फास्ट फूड कॉर्नर, मोबाइल रिपेयरिंग केंद्र, सैलून, सब्जियों की दुकान और बहुत कुछ। उसके बाद 4-5 रास्ते हैं जो गांव के अलग-अलग मुहल्लों की ओर जाते हैं। गाँव में 3-4 छोटे क्रिकेट मैदान हैं और क्रिकेट सबसे अधिक खेला जाने वाला आउटडोर खेल है, जिसके बाद गाँव में गिल्ली डंडा, वॉलीबॉल और अन्य खेल खेले जाते हैं।

गाँव में कहाँ जाएँ?

गोमती नदी

जैसा कि पहले उल्लेख किया गया है, गाँव में एक नदी और एक घाघरा है। ये सुबह-सुबह या सूर्यास्त के समय अवश्य देखने योग्य हैं। आप बड़ी मस्जिद भी जा सकते हैं और नमाज़ अदा कर सकते हैं जो बहुत खूबसूरत है। गाँव में एक छोटी मस्जिद (जिसे दादा मियाँ वाली मस्जिद कहा जाता है) नदी के पास स्थित है जहाँ से आप नदी का सुंदर दृश्य देख सकते हैं। हर मंगलवार और शनिवार को गांव के बाहर एक विशेष सब्जी बाजार आयोजित किया जाता है, जिसे अवश्य देखना चाहिए। शाम होते ही बाजार में भीड़ मच जाती है। हर ग्रामीण ने जीवन में एक बार बाजार का दौरा जरूर किया होगा। यहां एक पुराना पुल भी है जहां शाम के समय स्थानीय लोग आते हैं। गांव में कई मजार हैं।

बड़ी मस्जिद
  • गोमती नदी
  • घघरा
  • पुराना पुल
  • बड़ी मस्जिद
  • छोटी मस्जिद (दादा मियां)
  • सब्जी बाजार
  • कई मजार शरीफ
कब्रिस्तान के पास क्रिकेट का मैदान

किशनी गांव कैसे पहुंचे?

निकटतम रेलवे स्टेशन निहालगढ़ है जहां इस रेलवे स्टेशन से ट्रेन गुजरने पर लगभग सभी ट्रेनों का ठहराव होता है। वहां से आपको रेलवे स्टेशन के बाहर उपलब्ध निजी वैन लेनी पड़ती है जिसे गांव तक पहुंचने में करीब 1 घंटे का समय लगता है। रुदौली रेलवे स्टेशन से भी आप गांव पहुंच सकते हैं। आप निजी बाइक से पहुंच सकते हैं। अब ओला और उबर उपलब्ध नहीं हैं लेकिन उम्मीद है कि भविष्य में ये जरूर उपलब्ध होंगे।

अगर आपको उपरोक्त लेख पसंद आया है, तो कृपया इसे अपने दोस्तों, परिवार के साथ विभिन्न सोशल मीडिया के माध्यम से अधिक से अधिक शेयर करें। अगर आप गाँव गए हैं तो कृपया गाँव में अपनी पसंदीदा जगह कमेंट करें और सभी को शेयर भी करें।

कृपया कमेंट करना न भूलें | आपको लेख कैसा लगा कृपया बताएं|👇

15 thoughts on “नदी के किनारे स्थित सुंदर गांव किशनी पर एक लेख। newskorner.com”

  1. आदि गंगा गोमती के गोद में बसे सुन्दर सा गांव किशनी पर लेख अद्भुत है लेखक की मेहनत को सलाम उम्मीद है आगे भी पढ़ने को मिलेगा जिसमें कुछ और अद्भुत ज्ञान वर्धक जानकारियां से हम पाठक अवगत होंगे जैसे गंगा जमुना तहजीब की‌ निशानी दरगाह के मेले का आयोजन मुग़ल साम्राज्य का इतिहास जुमा मस्जिद आदि । लेखक का बहुत बहुत धन्यवाद

    Like

Leave a Reply to ARYAN Cancel reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s